eBook

Please Fill This Form To Download The Book


book-cover

अपनों से अपनी बात

यूं तो हिमाचल और यहां के मेहनतकश लोगों ने कई क्षेत्रों में अपनी पहचान बनाई है, लेकिन इस पहाड़ी प्रदेश का नाम सुनते ही तत्काल काहन में जो तस्वीर उभरती है, वो लाल, चमकीले व सुंदर-सुंदर सेब फल से सजी होती है। एक बीज पहले पौधा, फिर पेड़ और अंत में फल का रूप लेता है। इस प्रक्रिया में बाग को अपने पसीने से सींचने वाले बागवान के धैर्य, परिश्रम, बुद्धि, कौशल और सजगता की परीक्षा होती है। जो बागवान निरंतर इस परीक्षा में सफल रहता है, समृद्धि और यश उसके घर में स्थाई रूप से बस जाते हैं।