स्टेम बोरर की रोकथाम जरूरी

0
1301

color rot
इस बोरर की सुंडियां सेब, चैरी, आडू, प्लम, बादाम, आदि के तने तथा शााखाओं में छेद कर वहां से बुरादा बाहर निकालती हैं। एक पौधे में एक से अधिक छेद भी होते हैं। इस बोरर द्वारा निकाला गया बुरादा गोल आकार का व भूरे रंग के छोटे-छोटे दानों की तरह का होता है। यह बुरादा तने के साथ ही मिट्टी में पड़ा होता है। इस बोरर की सुंडियां तने या शाखा के बीच में लंबी सुरंगें बनाकर खाती रहती हैं। इसके प्रभाव से पौधों में रस संचार रुक जाता है और पौधे सूखने शुरू हो जाते हैं। प्रभावित भाग पर कैंकर इत्यादि रोग लग जाते हैं। इससे बचाव के लिए प्रभावित भाग को लोहे की तार से साफ करने के बाद पेट्रोल से भिगोकर प्रभावित भाग में डालकर उसे चिकनी मिट्टी से भर दें।

LEAVE A REPLY