पहाड़ पर आ रहा है प्रून का जमाना

0
1091

680437d8bd9907dc8d21dee07b36c26d0052f93068b239-604x270

विदेशी प्रून की धमक चण्डीगढ़ की 22 फ्रूट मार्केट में देखने को मिली। पैकिट में बंद प्रून की कीमत थी 250 रूपये प्रति किलो। अमेरीका के कैलिर्फरिनया शहर से आए इस प्रून को स्टेनले प्रून के नाम से जाना जाता है। जिला शिमला ओर कुल्लू के कई बागवान कुछ सालों से प्रून की बागवानी कर रहे हैं। इस साल प्रदेश से बाहर भेजा गये इस फ्रूट के अच्छे दाम मिलें हैं। शिमला से 2015 भेजा गया प्रून अहमदाबाद और मुंबई की माॢकट में हाथों -हाथों बिका। ग्रोथ और पैदावार के मामले में इस फ्रूट का कोई मुकाबला नही है। प्रदेश के जिन इलाकों में सेब की पौध सुख रही है या भूमि सेब की उपज के लिए सही नहीं है वहां पर बागवान इस फ्रूट की बागवानी की और जा सकते है। वैज्ञानिक इसेे विश्व का सबसे पोषक फल मानते है। प्रून को अगर सुखा कर मार्किट में बेचा जाए तो इसके दाम दो गुणा मिलते है।

LEAVE A REPLY